Translate This Website In Any Language

अमेरिका(USA) किस देश का गुलाम था? जानिए कैसे मिली अमेरिका को आजादी।

अमेरिका(USA) किस देश का गुलाम था? जानिए कैसे मिली अमेरिका को आजादी।

अमेरिका(USA) किस देश का गुलाम था? जानिए कैसे मिली अमेरिका को आजादी।

क्या आप जानते है अमेरिका किस देश का गुलाम था नहीं पता तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। जैसा कि हम सभी जानते है कि आज अमेरिका यानी USA दुनिया का सबसे ताकतवर देश माना जाता है लेकिन ऐसा हमेशा से नहीं रहा है। एक समय में अमेरिका देश ने भी गुलामी झेली है आज भले इस देश को देखकर न लगता हो कि इसने कभी गुलामी सही होगी लेकिन हकीकत यही हैं कि अमेरिका भी कभी गुलाम रह चुका है। तो आखिर किस देश ने अमेरिका को गुलाम बनाया था वह आपको इस पोस्ट में पता चल जायेगा। इससे पहले आपको बता दे कि आज आप टेक्नोलॉजी की जितनी भी चीजें इस्तेमाल करते है उनमें अमेरिका का काफी योगदान है।


जनसंख्या के हिसाब से दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश यूनाईटेड स्टेट ऑफ़ अमेरिका (USA) आज दुनिया का सबसे ताकतवर देश है। लेकिन एक समय ऐसा भी था जब इस ताकतवर देश को भी गुलाम बनकर रहना पड़ा था।


ऐसे में आज हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि वर्तमान में दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों का जन्मदाता USA आखिर किस देश का गुलाम था। इसके साथ ही हम आपको अमेरिका की आजादी के संघर्ष के विषय में भी आपको विस्तार से बताएंगे। 



किस देश का गुलाम था अमेरिका


बता दे कि दुनिया के आधे से ज्यादा देशों को अपना अधीन करने वाले ब्रिटिश साम्राज्य ने ही अमेरिका को गुलाम बनाया था। ऐसा माना जाता है कि अमेरिका में गुलामी की शुरुआत 16वीं शताब्दी में हुई थी। इस दौरान बहुत से यूरोपीय लोग अमेरिका में जाकर बस गए थे। अमेरिका में अंग्रेजों का शासन स्थापित होने के बाद वहां के मूल अमेरिकन लोगो पर कई पाबंधी लगायी गयी थी।


अंग्रेजों के शासन काल में अमेरिका के मूल नागरिकों पर कई पाबंदी थी। लेकिन जब अमेरिका में अग्रेजों के खिलाफ आन्दोलन शुरू हुआ तो, ब्रिटिश हुकूमत को अमेरिका छोड़कर जाना पड़ा। इस तरह करीब 150 साल अंग्रेजों का गुलाम रहने के बाद 4 जुलाई 1776 को अमेरिका को ब्रिटिश साम्राज्य से आजादी मिली थी। 


जब में अंग्रेजों का शासन था तब भारत में उस समय मुग़ल शासकों का शासन चलता था। अमेरिका के बाद अंग्रेजों ने दुनिया कई और देशों को अपना उपनिवेश बनाया। जिसमें भारत का नाम भी शामिल था भारत में अंग्रेजों के •आगमन से पूर्व राजाओं का राज था लेकिन जब अंग्रेज भारत आये तो उन्हें यहाँ मतभेद दिखे। जिसके बाद उन्होंने इसका फायदा उठाया और धीरे धीरे रजवाड़ों को हराकर सम्पूर्ण भारत में कब्जा कर लिया और यहाँ लगभग 200 साल तक शासन किया।



अमेरिका का स्वतंत्रता संग्राम


आपको बता दे कि अंग्रेजों से स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए  तेरह कालोनियों ने मिलकर ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ सशस्त्र संग्राम में भाग लिया।


ये सभी कालोनियां मिलकर अमेरिका की आजादी के बाद एक देश बनी, जिसे संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) नाम दिया गया। वहीं अमेरिका के इस आजादी के  संग्राम को अमेरिकी स्वतंत्रता संग्राम या क्रांतिकारी युद्ध कहा जाता है।


4 जुलाई 1776 को अंग्रेजों से आजाद होने के बाद अमेरिका ने अपने सीमा से लगे इलाकों को अपने अधीन कर लिया और देखते ही देखते अमेरिका एक शक्तिशाली देश बन गया। आज अमेरिका टेक्नोलॉजी और अपनी अर्थव्यवस्था में दुनिया के शीर्ष देशों में शुमार है। 



USA में स्वतंत्रता का जश्न 


150 साल अंग्रेजों की गुलामी झेलने के बाद जब USA को 4 जुलाई 1776 को आजादी मिली तो, पूरे देश ने इस दिन को अपनी यादो में संजो लिया और अमेरिका में 4 जुलाई को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाने लगा।


हर साल अमेरिका में आजादी के जश्न को बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन USA के राष्ट्रपति देश की राजधानी वाशिंगटन D.C. में झंडा फहराते है तथा परेड की सलामी लेते हैं।


इस दौरान पूरे देश में जश्न का माहौल होता है। वहीं आतिशबाजी से USA का पूरा आसमान जगमगा उठता है। बहुत से लोग इस राष्ट्रीय दिवस पर पिकनिक मनाते हैं।



अमेरिका के स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी दस रोचक बातें:


  1. चार जुलाई, 1776 को डेलवेयर , पेन्सिलवेनिया , न्यूजर्सी, जॉर्जिया, कनेक्टिकट, मैसाचुसेट्स बे, मैरीलैंड, दक्षिण कैरोलिना, न्यू हैम्पशायर, वर्जीनिया, न्यूयॉर्क, उत्तरी कैरोलिना और रोड आइसलैंड ने ब्रिटेन से आजादी की घोषणा की।


  1. डिक्लेरेशन ऑफ इंडिपेंडेंस पर बाद में अमेरिका के राष्ट्रपति बने थॉमस जेफरसन और बेंजामिन फ्रेंकलिन ने हस्ताक्षर किए थे।


  1. अमेरिका की आजादी के दौरान अमेरिकियों का नारा 'प्रतिनिधित्‍व नहीं तो कर नहीं' था. यह नारा 1765 में दिया गया।


  1. अमेरिका की आजादी की लड़ाई 1783 ईसवी (पेरिस की संधि के मुताबिक) खत्‍म हुई।


  1. अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन के नेतृत्व में ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ लड़ाई लड़ी गई।


  1. 30 अप्रैल, 1789 से चार मार्च 1797 तक जॉर्ज वाशिंगटन संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति पद पर रहे।


  1. चार जुलाई को अमेरिका में राष्ट्रीय अवकाश होता है।


  1. संसार में सर्वप्रथम लिखित संविधान 1789 ई. में संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका में लागू हुआ।


  1. आजादी के बाद अमेरिका को गृह युद्ध से जूझना पड़ा. अमेरिकी गृहयुद्ध की शुरुआत 1861 में हुई थी और इसका अंत 1865 में हुआ. गृहयुद्ध में लाखों लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी।


  1. संयुक्त राज्य अमेरिका में अभी 50 राज्य शामिल हैं. राज्यों की बागडोर गवर्नर के हाथों में होती है।



FAQ


USA के पहले राष्ट्रपति कौन थे ?

अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन राष्ट्रपति थे। वे 1789 से 1797 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे थे।


USA की राजधानी का नाम क्या है

संयुक्त राज्य अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डी.सी. (कोलंबिया) है।



Conclusion


उम्मीद है आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा तथा आप यह जान गए होंगे कि अमेरिका किस देश का गुलाम था तथा उसे आजादी कैसे मिली। अगर आप भी अमेरिका की गुलामी से अनजान थे इस पोस्ट में आपको कुछ नया जानने को मिला होगा। संयुक्त राज्य अमेरिका आज एक ऐसा सुपरपावर देश है जिसने अपने गुलाम इतिहास को काफी पीछे छोड़ दिया है। वहीं इस देश पर शासन करने वाले अंग्रेजों का कोई पता नहीं है। एक ऐसा वक्त भी था जब अंग्रेजों ने दुनिया की 80 फीसदी जमीन पर कब्जा कर लिया था ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते है कि उस वक्त ब्रिटिश साम्राज्य कितना ताकतवर होगा। हालाकि 19वीं शताब्दी में ब्रिटिश शासन ने सभी को आजाद कर दिया था और अब सभी देश स्वतंत्र है।


धन्यवाद।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ