Translate This Website In Any Language

पेट्रोल 9.5 रुपये और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ | उज्ज्वला लाभार्थियों को प्रति सिलिंडर ₹200 की सब्सिडी भी

महंगाई से राहत केंद्र सरकार ने की उत्पाद शुल्क में बड़ी कटौती

Petrol rate,diesal rate,gas subsidy,

सात माह बाद पेट्रोल 9.5 रुपये और डीजल 7 रुपये प्रति लीटर सस्ता


उज्ज्वला लाभार्थियों को प्रति सिलिंडर ₹200 की सब्सिडी


केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में बड़ी कटौती की में है। शनिवार को सरकार ने पेट्रोल पर आठ रुपये प्रति लीटर और डीजल पर छह रुपये प्रति लीटर उत्पाद शुल्क कम किया। यह एलान देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया। उन्होंने कहा कि उत्पाद शुल्क में कटौती के प्रभाव स्वरूप पेट्रोल के दाम में 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम में सात रुपये प्रति लीटर की कमी आयेगी। ऐसा उत्पाद शुल्क की दर पर लगने वाले अन्य करों में कमी आने की वजह से होगा।


सरकार ने उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को घरेलू रसोई गैस पर 200 रुपये प्रति सिलिंडर की सब्सिडी देने की घोषणा भी की एक साल में 12 गैस सिलिंडर तक पर यह सब्सिडी मिलेगी, इसका फायदा लगभग नौ करोड़ परिवारों को मिलेगा सरकार का ये फैसले शनिवार आधी रात से लागू हो गये। देश में बढ़ती महंगाई और ईंधन उत्पादों की ऊंची कीमतों से आम जनजीवन पर पड़ रहे असर को देखते हुए ये कदम उठाये गये हैं।


सरकार ने इसके पहले चार नवंबर, 2021 को पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में पांच रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी। लेकिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद मार्च, 2022 के दूसरे पखवाड़े से पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में फिर से बढ़ोतरी शुरू हो गयी थी। इसके लिए रूस यूक्रेन युद्ध के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम में हुई वृद्धि को जिम्मेदार बताया गया। केंद्रीय वित्त मंत्री ने उत्पाद शुल्क में कटौती करते हुए भरोसा जताया कि राज्य सरकारें भी पेट्रोल-डीजल पर लागू अपने करों में कटौती करने की दिशा में आगे बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों के ऐसा करने से आम आदमी को राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि यूक्रेन युद्ध की वजह सप्लाई चेन बाधित हुई है। इसके चलते आज पूरी दुनिया महंगाई की मार झेल रही है।


पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि पिछले दिनों भाजपा शासित राज्यों ने डीजल-पेट्रोल पर अपने करों में कटौती की थी। लेकिन, गैर-भाजपा शासित राज्यों ने ऐसा नहीं किया, ये राज्य भी वैट कम कर राहत दें।




हमारे लिए जनता सबसे पहले


नरेंद्र मोदी:- पेट्रोल-डीजल की कीमतो में की गयी यह बड़ी कटौती विभिन्न क्षेत्रों पर सकारात्मक असर डालेगी इससे हमारे नागरिकों को राहत मिलेगी और जिंदगी आसान बनेगी उज्ज्वला योजना ने करोड़ों भारतीयों, खास कर महिलाओं की मदद की है, उज्ज्वला में सब्सिडी का फैसला परिवारों के बजट को बड़ी राहत देगा।


■ नवंबर 2021 के बाद डीजल-पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में पहली बड़ी कटौती


■ उज्जवला योजना में एक साल में 12 गैस सिलिंडर तक पर मिलेगा सब्सिडी का लाभ


■ पेट्रोलियम मंत्री हरदीप पुरी ने कहा, अब गैर भाजपा शासित राज्य भी वैट कम करें


■ केरल ने पेट्रोल पर राज्य सरकार के वैट में 2.41 रुपये और डीजल पर 1.36 रुपये कटौती की घोषणा की


■ कांग्रेस ने कहा, सरकार ने 60 दिनों में उत्पाद शुल्क पहले 10 रुपये बढ़ाया गया और अब सात आठ रुपये की कटौती की गयी





पेट्रोल और डीजल के दाम


नया रेट (22 मई से)


पेट्रोल-       99.76

डीजल-      94.56



पुराना रेट (21 मई तक)


पेट्रोल-     108.71

डीजल-    101.92




झारखंड के 35 लाख उज्ज्वला लाभुकों को मिलेगा लाभ


रांची, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभुकों को 200 रुपये प्रति सिलिडर सब्सिडी मिलनेवाली है। योजना लागू होते ही रांची सहित पूरे झारखंड के लगभग 35 लाख लाभुकों को इसका फायदा मिलने लगेगा। ग्राहकों को एक साल में अधिकतम 12 सिलिंडर पर सब्सिडी मिलेगी, जबकि झारखंड में सामान्य ग्राहकों की संख्या लगभग 25 लाख है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ