Translate This Website In Any Language

ऑनलाइन फिटनेस क्लास, जिम, डांस, योगा ट्रेनर व्यवसाय कैसे शुरू करें (How to Start Online Fitness Class Business)

ऑनलाइन फिटनेस क्लास, जिम, डांस, योगा ट्रेनर व्यवसाय कैसे शुरू करें (How to Start Online Fitness Class Business, Personal Gym Trainer Course, Model, Plan, Software, Dance, Yoga in Hindi)

रिसर्च एजेंसी Smergers के अनुसार, भारतीय फिटनेस व्यवसाय का मूल्य 4,500 करोड़ है और यह हर साल 16-18 प्रतिशत की गति से बढ़ रहा है। फिटनेस की बढ़ती लोकप्रियता के साथ, यह ध्यान देने बात है कि एक व्यावसायिक जिम खोलना, यहां तक कि बिजनेस लोन ऑनलाइन या एमएसएमई लोन ऑनलाइन के साथ, उद्यमशीलता की भावना वाले किसी भी व्यक्ति के लिए ग्रोथ की बहुत अधिक संभावना है। क्योंकि अपने देश में जिम लंबे समय से लोकप्रिय हैं।


कोरोना वायरस के चलते न केवल लोग प्रभावित हो रहे हैं बल्कि इससे उनके व्यवसाय के क्षेत्र में भी बहुत अधिक प्रभाव पड़ रहा है । दरअसल इस वायरस को ख़त्म करने के लिए एवं लोगों को इससे बचाने के लिए सरकार ने देश के स्कूल, कॉलेज, मॉल और साथ ही जिम और सभी तरह के फिटनेस सेंटर को भी कुछ समय के लिए बंद कर दिया है । और लोगों से यह कहा हैं कि वे अपने घर के अंदर रहें, और वही से काम करें ।


लेकिन एक तरफ जहां लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए ये कदम उठायें जा रहे हैं, तो दूसरी ओर लोगों के मन में यह सवाल उठा रहा है कि जिम बंद हो जाने के बाद उनकी फिटनेस का क्या होगा । और जो लोग जिम या दुसरे फिटनेस सेंटर चला रहे हैं वे ये सोच रहे हैं कि उनके बिज़नस का क्या होगा । तो हम आपको बता दें कि आपको इसके लिए चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यहाँ आज हम आपकी इस परेशानी को ख़त्म कर देंगे । जी हां आप घर बैठे ही इस बिज़नस को करके लाभ कमा सकते हैं और साथ ही अपनी फिटनेस का ख्याल भी रख सकते हैं । यह काम आप ऑनलाइन जिम ट्रेनर या फिटनेस गुरु बनकर कर सकते हैं । अब यह काम कैसे हो सकता है, यह जानने के लिए हमारे इस लेख को अंत तक पढियें।


Online Fitness Class Busines

जिम बिजनेस कैसे शुरू करें?

Gym Business Plan in Hindi

Gym Business Plan:  हेलो दोस्तों, आज हम इस आर्टिकल में जिम का बिजनेस कैसे शुरू करें, इस बारे में बात करने जा रहे हैं। आजकल की जनरेशन अपनी सेहत और स्वास्थ्य को लेकर बहुत ही ध्यान रखती है। जिम एक ऐसा बिजनेस है, जिसकी वजह से आप अपनी सेहत और स्वास्थ्य का भरपूर ध्यान रख सकते हैं और कहा भी जाता है, अगर जान है तो जहान है अर्थात अगर आप अपने स्वास्थ्य का अच्छे से ध्यान रखेंगे, तंदुरुस्त रहेंगे तो एक अच्छी खासी जिंदगी जी सकते हैं। हमेशा फिट रह सकते हैं और आपका दिमाग सोचने समझने की शक्ति बनाए रखता है।


आप जिम खोलने का बिजनेस किस प्रकार शुरू कर सकते हैं?, आपको इसमें कितने रुपया का निवेश करना जरूरी होता है?, किस स्थान पर जिम खोल सकते हैं?, जिम खोलने के लिए किन मशीनों की आवश्यकता पड़ती है?, इत्यादि के बारे में आपको विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे।


जिम क्या होता है?

इंसान की फिजिकल फिटनेस जिम से जुड़ा हुआ होता है। जिम एक ऐसी जगह होती है, जहां मशीनें या एक्सरसाइज की मदद से हम खुद को फिट रख सकते हैं। जिम जाने के लिए लोग अपने दिन का कोई भी समय निर्धारित कर सकते हैं। जिम में अपने कस्टमर को जिम का मालिक ट्रेनिंग भी देता है। अगर सरल भाषा में कहा जाए तो, एक ऐसी जगह जहां पर हम एक्सरसाइज करते हैं और अपने आप को स्वस्थ रख सकते हैं, उसे जिम कहते हैं। जिम में एक्सरसाइज करने का समय कम से कम 2 से 4 घंटे का होता है। आजकल की पीढ़ी योगा और स्पिरिचुअल ग्रोथ की तरफ खुद को बढ़ा रहे हैं, इसीलिए हर जगह आपको जिम और योगा सेंटर देखने को मिल जाएंगे। अब आप जिम किस प्रकार खोल सकते हैं, इस बारे में विस्तार पूर्वक बात करते हैं।



जिम कैसे खोल सकते हैं?

अगर आप जिम खोलने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके पास जिम खोलने के संबंधित पूरी जानकारी होना आवश्यक है। जैसे कि जिम शुरू करने की उम्र क्या होती है। जिम में किस-किस सामान की जरूरत पड़ती है, जिम के ट्रेनर की फीस कितनी होती है। जिम के लिए कौन से प्रोटीन की आवश्यकता होती है, इत्यादि के बारे में आपको जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। इसके लिए आपको अपने बजट को भी ध्यान में रखना होगा और उसे समझना होगा। अगर आप यह बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको इसमें कितने पैसे इन्वेस्ट करने होंगे। क्योंकि अगर आप जिम खोलने के बिजनेस के बारे में सोच रहे हैं तो इसमें आपको कम से कम ₹500000 तक का निवेश करना बहुत ही ज्यादा जरूरी है।



जिम के प्रकार

सबसे पहले आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप किस प्रकार की जिम खोलना चाहते हैं। क्योंकि जिम दो प्रकार की होती हैं, पहले जिम होती है, जो कार्डियो उपकरणों और वेट लिफ्टिंग इत्यादि की सुविधाएं प्रदान करती है। यह जिम वजन कम करना, बॉडी बनाना इत्यादि की ट्रेनिंग देने के लिए खोला जाता है।


दूसरा नंबर होता है, जिसमें फिटनेस सेंटर मतलब वजन घटाना, वजन बढ़ाना, योगा, एरोबिक्स, मार्शल आर्ट, आसन इत्यादि सिखाए जाते हैं। फिटनेस सेंटर का बिजनेस जिम की तुलना में थोड़ा बहुत महंगा हो सकता है। जिम हो या फिटनेस सेंटर दोनों के लिए ही अनुभव का होना अत्यंत आवश्यक है।




बिजनेस मॉडल चुनना

उद्योग अनुसंधान के अनुसार, भारत में एक जिम के संचालन की लागत 5 लाख से 10 लाख रुपये तक हो सकती है। आपको जो अच्छा लगे, उसके आधार पर आपके व्यवसाय मॉडल भिन्न हो सकते हैं:


सदस्यता मॉडल: लंबे समय से, यह जिम के लिए मानक व्यवसाय मॉडल रहा है। ग्राहक मासिक शुल्क का भुगतान करते हैं, जो आपको स्थिर राजस्व प्रदान करता है।


पे-एज़-यू-गो मॉडल: यदि आप अभी शुरुआत कर रहे हैं और अपने जिम में नए सदस्यों को आकर्षित करना चाहते हैं, तो यह सबसे अच्छा विकल्प है। यदि पैकेज की कीमत दस यात्राओं के लिए 1000 रुपये है, तो ग्राहक कभी भी जिम जा सकते हैं।


गतिशील मूल्य निर्धारण मॉडल: ग्राहकों को उनकी आवश्यकताओं और उद्देश्यों के आधार पर विभिन्न पैकेजों के साथ प्रस्तुत किया जाएगा। यदि आप अपने जिम को प्रमुख शहरों में उच्च अंत पड़ोस के पास पाते हैं, तो यह एक अधिक सफल व्यावसायिक रणनीति होगी।


एकीकृत रणनीति: यह मॉडल सदस्यता को पे-एज़-यू-गो के साथ जोड़कर जिम और उपभोक्ताओं दोनों की मदद करता है। नियमित सदस्य सदस्यता मॉडल का लाभ उठा सकते हैं, जबकि अनियमित सदस्य विकल्प चुन सकते हैं।


जिम शुरु करने के लिए स्थान चुनना


आपके जिम के स्थान में आपके व्यवसाय को बनाने या बिगाड़ने की क्षमता है। आवासीय पड़ोस, गेटेड समुदायों या अपार्टमेंट परिसरों में अपना जिम स्थापित करना बहुत अच्छा है।

यदि आवासीय पड़ोस के पास कोई जगह उपलब्ध नहीं है, तो सस्ती दर के लिए अगले निकटतम संभावित स्थान में एक बड़ी जगह चुनें। सुबह और शाम के समय रिहायशी इलाकों में जिम खचाखच भरे रहते हैं। यदि लोग कम भीड़-भाड़ वाले और अधिक आरामदायक वातावरण में व्यायाम करने का मतलब है तो लोग थोड़ा आगे चलने को तैयार हैं।


एक अच्छा जिम खोलने के लिए कम से कम 2000 से 2500 स्क्वायर फीट के प्लॉट की आवश्यकता होती है। बाकी आपके बजट के अनुसार भी जगह थोड़ी कम ज्यादा हो सकती है, परंतु इसमें जगह ज्यादा होनी आवश्यक होती है।




जिम खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन तथा आवश्यक लाइसेंस प्राप्त करना

फिटनेस केंद्रों को एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी या सीमित देयता भागीदारी के रूप में आयोजित किया जाना चाहिए ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि प्रमोटरों के पास हस्तांतरणीयता और सीमित देयता संरक्षण है। व्यवसाय पंजीकरण पूरा करने के बाद, एक व्यक्ति को कर पंजीकरण, भवन परमिट, कर प्रक्रिया और पहले निवेश से संबंधित लाइसेंस प्राप्त करना होगा। एक फिटनेस सेंटर की सेवाएं सेवा कर के अधीन होंगी।


नतीजतन, जब भी फिटनेस सेंटर की वार्षिक बिक्री 9 लाख रुपये से अधिक हो, तो उसे सेवा कर के लिए पंजीकरण करना होगा। सेवा कर पंजीकरण के अलावा, फिटनेस सेंटर को सरकारी सब्सिडी और कार्यक्रमों के लिए पात्र होने के लिए एसएसआई पंजीकरण की भी आवश्यकता होती है। भारत में फिटनेस सेंटर चलाने के लिए भी स्थानीय पुलिस विभाग से अनुमति लेना आवश्यक है। राज्य में फिटनेस सेंटर चलाने के लिए सबसे पहले आपको पुलिस विभाग के संबंधित अधिकारी से अनुमति लेनी होगी।


नियम के अनुसार जिम खोलने के लिए रजिस्ट्रेशन का होना आवश्यक है। जिम का रजिस्ट्रेशन स्मॉल स्केल इंडस्ट्री के तहत किया जाता है। इसके लिए आपको जिले के उद्योग विभाग से फॉर्म प्राप्त करना होता है और फॉर्म में सभी नियमों का उल्लेख भी किया जाता है। जब आप इस फॉर्म का काम पूरा कर लेते हैं तब आपको वहां से जिम खोलने का लाइसेंस प्राप्त हो जाता है।


सबसे पहले इसके लिए आपको अस्थाई लाइसेंस दिया जाता है। इसके कुछ समय पश्चात आप स्थाई लाइसेंस के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। आजकल देखा जाए तो सभी काम ऑनलाइन किए जाते हैं, इसीलिए इसकी व्यवस्था ऑनलाइन भी की गई है। ऑनलाइन सुविधा होने की वजह से आप भागदौड़ से बच सकते हैं।



जिम खोलने के लिए जरूरी मशीनें

अगर आप एक सामान्य जिम खोलते हैं तो उसके लिए आपको कम से कम 15 मशीनों की जरूरत होती है। जिम चलाने के लिए जिन मशीनों की आवश्यकता होती है, उनमें ट्रैंड मिल, बेंच प्रेस, लेग प्रेस, लेट पुल डाउन, बटरफ्लाई, पैक डैक, केबल क्रॉसओवर, डिप बार, प्रीचर बेंच, सिटअप बेंच, दो नॉर्मल बेंच, योगा मैट, स्किपिंग रोप, रॉड, डबल स्टैंड इत्यादि महत्वपूर्ण है। इन मशीनों में सबसे महंगा ट्रेंड मिल होता है, क्योंकि ट्रैंड मिल पर दौड़ लगाते हैं। अगर बिजनेस के लिए बेहतर ट्रेड मिल्क खरीदा जाए तो उसकी कीमत लगभग ₹100000 तक की होती है। कम दाम की जो ट्रेडमिल होते हैं, वह घर के लिए ठीक होते हैं। लेकिन बिजनेस के लिए अच्छे वाले ट्रेडमिल की आवश्यकता होती है।

इसके अलावा आपको अन्य कई चीजों की आवश्यकता पड़ेगी, जैसे कि लाइट म्यूजिक सिस्टम और इंटीरियर डेकोरेशन इत्यादि पर आपको थोड़ा बहुत निवेश करना होगा। जिम में कई मशीनें लोकल में भी बनवाई जा सकती हैं। लेकिन अगर आप लोकल मशीनों का इस्तेमाल करते है तब भी आपको क्वालिटी का थोड़ा ध्यान रखना आवश्यक है।



जिम के लिए मशीनें कहां से खरीदें?

जिम के लिए मशीनें आप बड़ी-बड़ी कंपनियों से खरीद सकते हैं। शहरों में कई बड़े शोरूम होते है, जो जिम के लिए आधुनिक मशीनों का निर्माण करते हैं और वहां पर अपनी मशीनों को बेचते हैं। कई लोग लोकल मशीनें भी बनवाते हैं।

आप ऑनलाइन जाकर भी जिम के लिए मशीनें खरीद सकते हैं। इंटरनेट पर तरह-तरह की कंपनियों की जानकारी निकाल सकते हैं और कई वेबसाइट पर आप अलग-अलग रेट देखकर अपनी सुविधा के हिसाब से कम रेट की मशीन भी खरीद सकते हैं। ऑनलाइन में अक्सर ऑफर में अच्छी चीजें मिल जाती है।



उपकरण और अंदरूनी सजावट का ध्यान देना

आपकी प्राथमिकताओं की सूची में उचित व्यायाम उपकरण स्थापित करना उच्च होना चाहिए। आपको सदस्यों की सुरक्षा, साथ ही नई तकनीक और उचित रखरखाव पर विचार करना चाहिए। किसी भी मानक उपकरण को स्थापित करने की लागत 3,00,000 रुपये से लेकर 40,00,000 लाख रुपये हो सकती है। आंतरिक सज्जा अच्छी तरह से डिजाइन की जानी चाहिए, जिसमें बहुत सारी चमकदार रोशनी, अच्छी पेंटिंग और उत्साहजनक पोस्टर हों। इस मामले में कि उपकरण टुट जाता है, हॉल को दर्पणों के साथ पंक्तिबद्ध किया जाना चाहिए और नीचे सुरक्षात्मक बंपर होना चाहिए।



अगर आप प्रशिक्षित नहीं हो तो क्या करें?

जब आप जिम या फिटनेस सेंटर शुरू करते हैं, उसके लिए आपको पूरी तरह से प्रशिक्षित होना आवश्यक है। अगर आप प्रशिक्षित नहीं है, तो आप इसके लिए किसी ट्रेनर या कोच की सहायता भी ले सकते हैं। अगर आपके पास ट्रेनर नहीं होगा तो आप जिम और फिटनेस सेंटर का व्यापार नहीं कर सकते हैं, क्योंकि इसके लिए अनुभवी लोगों का होना बहुत ही आवश्यक है। अगर आप ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपनी बॉडी को भी फिट बनाना होगा क्योंकि जब भी कोई व्यक्ति जिम या फिटनेस सेंटर पर जाते हैं तो सबसे पहले वह संचालक या मालिक की बॉडी जरूर देखते हैं। अगर आपकी बॉडी सही नहीं होती है तो आपका पहला इंप्रेशन खराब भी पड़ सकता है। इससे आपको अपना जिम चलाने में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।


फिटनेस ट्रेनर्स को हायर करना

साइट पर प्रशिक्षकों की उपलब्धता फिटनेस सेंटर की क्षमता को निर्धारित करती है। फिटनेस ट्रेनर ग्राहकों को उपयुक्त प्रशिक्षण नियमों के साथ सहायता कर सकते हैं और व्यक्तिगत सुझाव प्रदान कर सकते हैं।

इन सेवाओं के परिणामस्वरूप, वे लंबे समय तक अपनी सदस्यता बनाए रखने में सक्षम होंगे। एक लाइसेंस प्राप्त ट्रेनर न केवल आपके जिम को वैधता प्रदान करेगा बल्कि गुणवत्ता और मौखिक विपणन में भी सुधार करेगा।

फिटनेस ट्रेनर चुनने से पहले आपको सभी क्रेडेंशियल्स की जांच करनी चाहिए:

  • GFFI (गोल्ड्स जिम फिटनेस इंस्टीट्यूट)

  • बीएफवाई खेल और फ़िटनेस

  • सीबीटी (प्रमाणित शरीर सौष्ठव और जिम / पर्सनल ट्रेनर)

  • आईएएफटी (भारतीय फिटनेस प्रशिक्षण अकादमी)



जिम की मार्केटिंग करना

जब भी आप कोई बिजनेस शुरू करते हैं, उसके लिए आपको मार्केटिंग करना बहुत ही आवश्यक होता है, चाहे वह बिजनेस छोटा हो या बड़ा। अगर आप मार्केटिंग नहीं करेंगे तो लोगों को आपके बिजनेस आपके व्यवसाय के बारे में पता नहीं चल पाएगा। अगर किसी को पता नहीं चलेगा तो आपको लाभ नहीं मिलेगा और ग्राहक भी कम आएंगे। अगर आपके पास ज्यादा ग्राहक आएंगे, तभी आपकी आमदनी अच्छी हो सकेगी। आपको जरूरी है कि आप अपने जिम और फिटनेस सेंटर का प्रचार इस प्रकार करें कि वह लोगों को आकर्षित करें।


इसके लिए आप जगह जगह पर बड़े-बड़े होर्डिंग बनाकर भी लगवा सकते हैं। सोशल मीडिया पर भी आप प्रचार कर सकते हैं। इसी के साथ लोकल न्यूज़ चैनल और अखबारों में भी आप अपना विज्ञापन दे सकते हैं और पम्पलेट  भी बटवा सकते हैं। लोग हमेशा कुछ नया, मूल, दिलचस्प और उचित मूल्य के फिटनेस पैकेज की तलाश में रहते हैं। आप फिटनेस गतिविधियों, डेमो कोर्स, आकर्षक छूट, और व्यक्तिगत उपहार (वस्तुओं, बैग, आदि) सहित विभिन्न अभियान शुरू करके अपने व्यवसाय का विज्ञापन कर सकते हैं। 



जिम खोलने के लिए निवेश

आपको जिम खोलने के लिए लगभग 2500 से 3000 स्क्वायर फीट एरिया की आवश्यकता पड़ सकती है, इसीलिए लगभग आपका 50 से ₹8000000 तक निवेश बैठ सकता है क्योंकि जगह के साथ-साथ इंटीरियर्स उपकरणों का खर्चा, मार्केटिंग विज्ञापन का खर्चा और भी अन्य कई खर्चे शामिल होते हैं।

इसलिए अगर आप इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं तो कम से कम लागत 80 से 90 लाख रूपए तक की होती है। क्योंकि यह बिजनेस एक बड़े लेवल पर होता है, छोटा जिम नहीं खोला जाता है। छोटे जिम खोलने के लिए इतनी खर्च नहीं होती है। 



जिम खोलने में 1 महीने का खर्च कितना होता है?

अगर आप जिम खोलने का बिजनेस शुरू करते हैं, इसके लिए आपको ₹15000 महीना किराए के हिसाब से मतलब जो जगह आप लेते हैं। अगर वह आपकी है तो ठीक है अगर आप किराए पर लेते हैं, तो उसका कम से कम किराया ₹15000 महीना हो सकता है। इसी के साथ ₹10000 का बिजली का बिल और ₹15000 ट्रेनर और ₹10000 के अन्य कर्मचारियों का वेतन, अगर देखा जाए तो 1 महीने का खर्च लगभग ₹50000 हो सकता है। इसी के साथ ₹20000 आपको अलग से भी मशीनों के लिए जोड़ने होंगे। इसका मतलब आपका महीने का खर्च ₹70000 के आसपास हो सकता है। अगर आप खुद ही ट्रेनिंग दे सकते हैं तो इससे आपके 15 से ₹20000 की बचत भी हो सकती है।



जिम की फीस लगभग कितनी होती है?

अगर आप किसी जिम में नहीं गए हैं तो आप किसी भी जिम में जाकर वहां की फीस पता कर सकते हैं। उसी के हिसाब से आप अपने जिम की फीस रख सकते हैं। वैसे देखा जाए तो जिम की लगभग कम से कम फीस ₹1000 महीना होती है।

अगर आपके जिम में 200 लोग भी नियमित तौर पर आ जाते हैं तो इससे आपको ₹200000 प्राप्त होते हैं। अगर आपके महीने का खर्चा ₹100000 निकाल भी दे, तब भी आपको 1 लाख रुपए की बचत बहुत आराम से हो सकती है। इसी के साथ आपको यह ध्यान रखना होगा कि आप यह मेंटेनेंस यूं ही बनाए रखें।



जिम में आमदनी किस प्रकार बढ़ाएं?

जब भी अब मशीनें खरीदे या किसी मैन्युफैक्चरर से बनवाएं तो आप इस बात का जरूर ध्यान रखें की मशीनें ऐसी हो, जिनका इस्तेमाल किया जाना बहुत ही एडजेस्टेबल हो, जिसके जरिए एक्सरसाइज अच्छी तरीके से की जा सके। इससे आपका बिजली का बिल भी कम आएगा और जब जरूरत ना हो तब मशीनों को बंद करें। इसी के साथ अगर मशीनें एडजेस्टेबल होगी तो आपके ग्राहक बढ़ेंगे, क्योंकि ग्राहकों को अच्छी सुविधा चाहिए होती है।

इसी के साथ अगर आप किसी दूसरे की मदद से जिम चला रहे हैं तो आप खुद भी सीखना शुरू कर दे। अगर आप खुद सीख कर सिखाएंगे तो इससे आप खुद ही काम संभाल पाएंगे और ट्रेनर को तनख्वाह देने की आवश्यकता नहीं होगी। जिससे आप की बचत होगी और आपकी आमदनी बढ़ सकेगी।

जिम के साथ साथ आप सप्लीमेंट का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं। अगर आप खुद जिम चलाएंगे तो लोग सप्लीमेंट भी आपसे जरूर खरीदेंगे। सप्लीमेंट का बिजनेस करने वाली कंपनियां आपको कम रेट में चीजें दे देती है। इसी के साथ अगर आपने जगह किराए पर ली है, तो आप वहां पर कोई डांस क्लास का म्यूजिक क्लास भी शुरू कर सकते हैं। जिस समय आप फ्री रहते हैं, इससे आपकी जगह काम भी आएगी और आपकी आमदनी भी बढ़ पाएगी।



जिम का बिजनेस शुरू करने से पहले कुछ सावधानियां

  • जब भी आप किराए पर जगह लेते हैं, उससे पहले आप मकान मालिक से अच्छी तरह से बात कर ले, क्योंकि जिन के लिए भारी-भरकम मशीनों की आवश्यकता होती है और वहां पर लगानी होगी अगर बाद में वह आपको तुरंत ही खाली करने को कहते तो इससे आपको बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

  • जब भी आप जिम खोलते हैं और आपके पास ग्राहक आते हैं, तो सबसे पहले आप लोगों से उनका हेल्थ सर्टिफिकेट जरूर मांगे। वह हेल्थ सर्टिफिकेट डॉक्टर या किसी भी अस्पताल से लेकर आ सकते हैं। क्योंकि अगर किसी भी ग्राहक को स्वास्थ्य संबंधित परेशानी हो तो बाद में वह आप पर क्लेम ना कर सके।

  • अगर आपको किसी भी मशीन की जानकारी नहीं है तो आप उसके बारे में पूरी जानकारी ले, इसके पश्चात की मशीनें खरीदें। अगर ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तो आप यूट्यूब या इंटरनेट से भी उस मशीन की जानकारी ले सकते हैं।

  • अगर आप जिम के बिजनेस के साथ-साथ सप्लीमेंट का बिजनेस भी शुरू कर रहे हैं तो इसके लिए आपको बेहतर क्वालिटी के ही प्रोडक्ट बेचने होंगे, अन्यथा इससे आपके जिम पर भी प्रभाव पड़ सकता है।


ऑनलाइन जिम ट्रेनर का व्यवसाय शुरू करने के लिए टिप्स (Online GYM Trainer Business Tips)

ऑनलाइन जिम ट्रेनर का व्यवसाय शुरू करने के लिए हम यहाँ आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं जिसके माध्यम से आप पैसों की कमाई कर सकते हैं –


वीडियो बनाकर :-

यदि आप एक जिम ट्रेनर है तो आपके पास आपके क्लाइंट भी होंगे । और यदि आपके पास आपके क्लाइंट नहीं भी हैं, तो भी आप अपने घर से ही एक्सरसाइज के वीडियो बनाकर उन्हें ऑनलाइन माध्यम से सोशल मीडिया में अपलोड कर सकते हैं । जैसे कि यदि आपका खुद का एक यूट्यूब चैनल हैं, तो आप उस यूट्यूब चैनल में अपने जिम की एक्सरसाइज से संबंधित कुछ वीडियो अपलोड कर सकते हैं । जिसे देखकर आपके क्लाइंट के साथ ही अन्य लोग भी अपने घर पर ही जिम की तरह एक्सरसाइज कर सकते हैं ।

लेकिन इससे आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि इससे आपको फायदा कैसे होगा । तो हम आपको बता दें कि आप अपने यूट्यूब चैनल से पैसे कमाने के लिए उसमें सब्सक्रिप्शन का विकल्प दें जैसे कि 1 महीने, 3 महीने, 6 महीने या 1 साल, और आप अपने अनुसार एक का चयन करें । और अपने क्लाइंट को यह बतायें कि आपको वीडियो देखने या उसे डाउनलोड करने के लिए आपके चैनल को सब्सक्राइब करना होगा । जितने ज्यादा लोग आपके वीडियो को देखने और डाउनलोड करने के लिए उसे सब्सक्राइब करेंगे, उतना ही अधिक आपको फायदा भी मिलेगा

इसके अलावा यूट्यूब में पेड का विकल्प भी होता है । आप उसे भी रख सकते हैं, इससे आपके ग्राहक वीडियो देखने या डाउनलोड करने के लिए आपको पेमेंट करेंगे । अतः इस तरह से आप 50 हजार रूपये तक की कमाई आसानी से कर सकते हैं । हालांकि यह आंकड़ा ज्यादा या कम भी हो सकता है जोकि आपके वीडियो और व्यूअर्स की संख्या पर निर्भर करता है ।  


वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से :-

आप अपने क्लाइंट से वीडियो कांफ्रेस के जरिये भी उन्हें फिट रहने की ट्रेनिंग दे सकते हैं । जिससे वे अपने घर पर ही फिट रहने के लिए एक्सरसाइज़ कर सकें । उन्हें इसके लिए जिम जाने की आवश्यकता नहीं होगी ।


एप्प के माध्यम से :-

आप अपना खुद का एक फिटनेस से संबंधित एप्प का भी निर्माण कर कमाई कर सकते हैं । इस एप्प से आप फिटनेस से सम्बंधित सभी चीजें जैसे सभी तरह की एक्सरसाइजेस आदि की जानकारी दे सकते हैं । साथ ही आप इस एप में पेड करने का विकल्प रखें, इससे लोग इसे डाउनलोड करने के लिए आपको कुछ पेड करेंगे । और इससे उन्हें फिटनेस एक्सरसाइज का ज्ञान प्राप्त होगा और आपकी पैसे की कमाई हो सकेगी । अतः आपको इसके लिये एक ऐसे फिटनेस एप्प का निर्माण करना होगा, जोकि लोगों के लिए अच्छी टिप्स से भरपूर हो, और इसे आसानी से डाउनलोड किया जा सकें, और लोग उसकी तरफ आकर्षित भी हों । नहीं तो आपको इससे मुनाफा नहीं हो पायेगा ।


वेबसाइट बनाकर :-

यदि आप एक वेबसाइट डेवलपर है या किसी ऐसे व्यक्ति को आप जानते हैं जो एक अच्छी वेबसाइट डिज़ाइन करता हैं । तो आप उससे अपने जिम व्यवसाय के लिए एक वेबसाइट बनवा सकते हैं । इस वेबसाइट में आपको सभी तरह की एक्सरसाइज एवं फिटनेस संबंधित अन्य चीजों की जानकारी, वीडियोस या अन्य माध्यम से की जाने वाली एक्सरसाइज करने की भी जानकारी आदि सेट करनी होगी । और अपनी वेबसाइट में पेड का विकल्प भी सेट करना होगा । जैसे ही कोई भी व्यक्ति जब आपकी वेबसाइट पर पहुंचेगा, तो उसे उसमें विजिट करने से पहले लॉग इन करने के लिए कुछ राशि पेड करनी होगी । वहीँ राशि आपकी कमाई का साधन होगी ।



तो इस तरह से आप ऑनलाइन जिम का निर्माण कर पैसे कमा सकते हैं । इससे आपका बिज़नस कोरोना वायरस जैसे खतरनाक बीमारी के फैलने से प्रभावित भी नहीं होगा ।



ऑनलाइन जिम में बिना उपकरणों के एक्सरसाइज करने के तरीके (Online GYM Business without any Equipments)

ऑनलाइन आप जिम का बिज़नस किस – किस माध्यम से कर सकते हैं यह तो आपने जान लिया, लेकिन अब बात आती हैं कि क्लाइंट ये एक्सरसाइज बिना जिम के उपकरणों के कैसे करेंगे । तो हम आपको बता दें कि इसकी भी आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है । क्योंकि जिम में उपयोग होने वाले कुछ बेसिक उपकरणों का सेट ऑनलाइन अमेज़न या फ्लिप्कार्ट जैसी किसी भी साइट से प्राप्त किया जा सकता है । आप अपने क्लाइंट को ये खरीदने के लिए कह सकते हैं । और खास बात यह है कि ये उपकरण 1 से 5 हजार रूपये तक की कीमत में प्राप्त किये जा सकते हैं ।


इसके अलावा आपको बता दें कि यदि लोगों को ये उपकरण खरीदने में परेशानी हैं, या उन्हें इसे उपयोग करने का ज्ञान नहीं है और वे लोग इसके स्थान पर अन्य माध्यम से एक्सरसाइज कर फिट रहने का विकल्प चुनते हैं, तो आपके लिए इससे संबंधित व्यवसाय करने के लिए निम्न विकल्प हम यहाँ दे रहे हैं जिसे फॉलो कर आप उनकी मदद के साथ – साथ खुद की कमाई भी कर सकते हैं ।


डांस :-

कोरोना वायरस की वजह से इन दिनों बंद होने वाले जिम से आपके व्यवसाय में प्रभाव जरुर पड़ रहा है, लेकिन अब आपको इसके लिए चिंता करने की जरुरत नहीं है । क्योंकि हम सभी जानते हैं कि डांस एक बहुत ही अच्छी शारीरिक एक्सरसाइज होती हैं । इसे करने से न केवल लोग फिट रहते हैं बल्कि इससे लोगों का एंटरटेनमेंट भी हो जाता है । आप घर पर ही लोगों को एक ऑनलाइन डांस क्लास ओपन करके फिट रहने के टिप्स दे सकते हैं । और इसके बदले में आपको अच्छे खासे पैसे भी मिल जायेंगे । यह कैसे होगा इसकी टिप्स हमने आपको ऊपर दे दी हैं । इन टिप्स के माध्यम से लोग आपके ऑनलाइन डांस क्लास से जुड़कर घर बैठे ही एक्सरसाइज कर खुद को फिट रख सकेंगे, जोकि आपका मुख्य उद्देश्य भी होता है ।


जुम्बा :-

एक्सरसाइज करने का एक और बहुत अच्छा तरीका जुम्बा होता है । यह भी एक अलग तरीके की डांस कम एक्सरसाइज होती है । इससे भी लोग फिट रह सकते हैं । यदि आपको जुम्बा आता है, तो आप अपने क्लाइन्ट्स को जुम्बा जैसी एक्सरसाइज की ट्रेनिंग देकर भी ऑनलाइन जिम व्यवसाय को कर सकते हैं, और हजारों रूपये की कमाई कर सकते हैं ।


एरोबिक्स :-

एक्सरसाइज के विभिन्न तरीके की बात करें तो उनमें एक एरोबिक्स भी है । यह भी एक तरीके की डांस एक्सरसाइज ही होती है । इसे भी घर पर ही म्यूजिक लगाकर किया जा सकता है । एरोबिक्स एक्सरसाइज करके फिट रहा जा सकता है । इसलिए जिम के उपकरण न होने पर भी आप एरोबिक्स के माध्यम से अपना यह ऑनलाइन जिम व्यवसाय कर पैसे कमा सकते हैं ।


मार्शल आर्ट :-

लोग फिट रहने के लिए मार्शल आर्ट का विकल्प भी चुन सकते हैं । इसे कराटे भी कहा जा सकता है । मार्शल आर्ट एक ऐसी एक्सरसाइज होती हैं, जिसका लोग खुद की सुरक्षा करने के लिए उपयोग करते हैं । यदि आपको मार्शल आर्ट आता है, तो फिर देरी किस बात की है । आप अपने ऑनलाइन जिम व्यवसाय के लिए मार्शल आर्ट्स के माध्यम से एक्सरसाइज करने का विकल्प जोड़ कर लोगों को इसकी ट्रेनिंग दे सकते हैं और हजारों की कमाई कर सकते हैं ।


योगा :-

योगा आज के समय में विश्व भर में बहुत अधिक प्रसिद्ध हो गया है । यहाँ तक कि 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस तक मनाया जाता है । लेकिन आपको बता दें कि यह एक्सरसाइज करने का हालही का कोई नया तरीका नहीं हैं, बल्कि यह सदियों से चली आ रही प्राचीन धरोहर है । इसमें विभिन्न तरह के आसन के माध्यम से शरीर को फिट रखा जाता है । इन दिनों देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी फिट रहने के लिए योग को अपनाया जा रहा है । ऐसे में यदि आप अपने ऑनलाइन जिम व्यवसाय में योगा के माध्यम से की जाने वाली एक्सरसाइज्स को शामिल करते हैं । तो इससे भी आपको घर बैठे अच्छा लाभ मिल सकता है ।


FAQ

प्रश्न: शुरुआत में हमें कितने किलो के डंबल का उपयोग करना चाहिए?

उत्तर: शुरू में आप कम से कम 2-5 किलो डंबल का प्रयोग कर सकते हैं।


प्रश्न: जिम खोलने के लिए कितने रुपए तक का खर्च होता है?

उत्तर: जिम खोलने के लिए कम से कम 70 से 80 लाख रुपए तक का निवेश जरूरी है।


प्रश्न: जिम ट्रेनर किस प्रकार बन सकते हैं?

उत्तर: अगर आप जिम की ट्रेनिंग करना चाहते हैं तो इसके लिए आप किसी अनुभवी व्यक्ति के पास जाए, जो जिनके बारे में आपको फिजिकल एजुकेशन अच्छी तरह से दे सकें।


प्रश्न: एक डम्बल  की कीमत कितनी होती है?

उत्तर: डंबल सभी प्रकार के मिलते हैं, और इनकी कीमत अलग-अलग होती है, इसके लिए आप ऑनलाइन या फिर मार्केट में जाकर पता कर सकते हैं।


प्रश्न: क्या जिम का बिजनेस लाभदायक साबित हो सकता है?

उत्तर: हां, जिम का बिजनेस लाभदायक साबित हो सकता है, बाकी आपकी मेहनत पर निर्भर करता है, आपके काम पर निर्भर करता है, कि आप अपने जिम को किस प्रकार चला रहे हैं।


प्रश्न: जिम की फीस कितनी रख सकते हैं?

उत्तर: शुरुआत में आप से थोड़ी कम भी रख सकते हैं। अगर आपका जिम अच्छा चल जाता है, इसके साथ आप इसको बढ़ा भी सकते हैं।


प्रश्न: जिम का सामान कहां से खरीदना चाहिए?

उत्तर: जिम का सामान आप किसी अच्छी कंपनी में जाकर या किसी मैन्युफैक्चरर के पास जाकर भी खरीद सकते हैं, अगर आपको वहां नहीं पसंद आता है तो आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं, अलग-अलग वेबसाइट पर जाकर कम रेट में खरीद सकते हैं।


प्रश्न: सामान्य रूप से जिम में कितने सदस्य होते हैं?

उत्तर: बड़े जिम में औसतन लगभग 1000 सदस्य होते हैं।  खासकर यदि वे फ्रेंचाइजी हों।


प्रश्न: मालिकों को किन सामान्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है?

उत्तर: मुख्य समस्या, शुरुआत में, नए ग्राहक मिल रहे हैं। फिर स्टाफ, खर्च और वित्त का प्रबंधन आता है।



निष्कर्ष

दोस्तों जिम का बिजनेस किस प्रकार शुरू करें, इस आर्टिकल में आपको विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई है। दोस्तों यह एक ऐसा बिजनेस है, अगर आप इसे अच्छे से चला लेते हैं तो आपको बहुत ही अच्छा लाभ प्राप्त होता है।

इसी के साथ-साथ एक अच्छा ट्रेनर होना बहुत ही आवश्यक है। अगर आप नहीं है तो इसके लिए आपको एक अच्छा ट्रेनर ढूंढने की आवश्यकता होती है और आपको चाहिए कि आप अपने जिम को इतने अच्छे से चलाएं कि कोई भी ग्राहक आए तो वह अपने मिलने वालों को या रिश्तेदारों को जान पहचान वालों को आपकी जिम जॉइन करने के लिए जरूर सजेस्ट करें। इसी के विपरीत अगर आपके जिम के बारे में नेगेटिव नकारात्मक बातें होंगी तो इससे आपके जिन पर गलत प्रभाव पड़ेगा और आपके ग्राहक कम होते जाएंगे। इसीलिए आपको चाहिए कि आप अपने ग्राहकों को पूरी तरह से संतुष्टि प्रदान करें और इस बात का विशेष ध्यान रखें। एक सफल जिम स्थान, उपकरण, साज-सज्जा, स्थान, प्रशिक्षकों और दीर्घकालिक व्यावसायिक अवधारणा में प्रारंभिक निवेश पर निर्भर करता है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ