Translate This Website In Any Language

ऑनलाइन कोचिंग सेंटर कैसे खोले? ऑनलाइन कोचिंग सेंटर शुरू कर घर बैठे लाखों कैसे कमायें?

ऑनलाइन कोचिंग सेंटर शुरू कर घर बैठे कमायें लाखों रूपये? 

जानिए ऑनलाइन कोचिंग सेंटर कैसे खोले?

कोचिंग सेण्टर खोलने की सभी जानकारिया।


ऑनलाइन कोचिंग सेंटर, क्लासेज, ट्यूटर व्यवसाय (Online Coaching Center, Tutor, Classes, Registration, Business, Plan, Model, Idea, Profit in Hindi)


Coaching Center Kaise Khole, Coaching Center Hindi, coaching institute hindi, how to start a coaching centre Hindi, tuition kaise start kare, coaching classes advertisement in hindi, online classes kaise shuru kare.



Coaching Center Kaise Khole- आज के समय में हर व्यक्ति के जीवन में शिक्षा का बहुत महत्व है स्कूल के बाद जहा बच्चे शिक्षा लेते है उसे कोचिंग सेण्टर बोलते है सभी लोग चाहते है की उनके बच्चे आज के समय में एक एडवांस लेवल की शिक्षा ले स्कूल में तो ये न के बराबर ही मिलती है और कोचिंग सेंटर में इसकी पूरी जानकारी के साथ साथ अच्छी प्रकार की शिक्षा मिलती है आज हम आपको बतायेगे की आप अपना कोचिंग सेंटर कैसे शुरू कर सकते है और कोचिंग सेंटर शुरू करने के क्या क्या नियम है।


यदि आप किसी विशेष विषय में एक बहुत अच्छे प्रशिक्षक है, तो आपके लिए इन दिनों ऑनलाइन ट्यूटर या ऑनलाइन कोचिंग सेंटर का व्यवसाय करना लाभकारी साबित हो सकता है। क्योंकि इन दिनों कोरोना वायरस से बचाव के लिए देश में लॉकडाउन की स्थिति हैं, और इसकी वजह से कोचिंग सेंटर्स भी बंद हैं जिससे बच्चे अपनी कोचिंग भी नहीं जा पा रहे हैं। और इससे उनकी पढाई पर असर पड़ रहा हैं। लेकिन हम यहाँ ऑनलाइन कोचिंग सेंटर या ऑनलाइन ट्यूटर जैसे बिज़नस आईडिया की जानकारी दे रहे हैं, जिससे अब आपको घर बैठे पैसे कमाने का मौका मिल सकता है। साथ ही साथ उन बच्चों को भी कोचिंग सेंटर न जाकर घर पर ही शिक्षा प्राप्त करने का मौका मिल सकता है। अब आपको एवं छात्रों दोनों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी, क्योंकि अब वे इसके माध्यम से घर बैठे पढ़ाई कर सकेंगे और आप पैसे कमा सकेंगे।आइये जानते है कोचिंग सेंटर कैसे खोले Coaching Center Kaise Khole और खोलने के बाद इसको बड़ा कैसे बनाये और कोचिंग सेंटर से कितना कमा सकते है।


ऑनलाइन कोचिंग सेंटर कैसे खोले?

कोचिंग सेंटर क्या है? कोचिंग सेंटर की पूरी जानकारी।

What is Coaching Centre in Hindi- कोचिंग सेंटर एक ऐसी जगह जहा से बच्चे या अन्य लोग शिक्षा लेते है। आज के समय में हर व्यक्ति अपने जीवन में जिस भी चीज़ को ज्यादा महत्व देता है उसमे शिक्षा भी शामिल है शिक्षा के बिना आज के जीवन में जीना व्यर्थ है कोचिंग सेंटर एक ऐसी जगह है जहा से हम अपनी शिक्षा को मजबूत बना सकते है।


Coaching Center Kaise Khole- स्कूल में बाद बच्चे अपनी शिक्षा को मजबूत करने के लिए कोचिंग सेंटर का ही सहारा लेते है और किसी भी पेपर की तैयारी जैसे सरकारी नौकरी और बड़े बड़े पेपर को पास करने के लिए लोग कोचिंग सेंटर का ही सहारा लेते है आज के समय में सभी माँ बाप बच्चों को एक बेहतरीन शिक्षा देकर उनका जीवन अच्छा बनाना है  जिसके चलते शहरों में बड़े-बड़े स्कूल और कोचिंग सेंटर भी खोले जा रहे हैं इस तरह से शहर तथा गांव में कई लोग ऐसे हैं जो अपनी पढ़ाई-लिखाई समाप्त करने के बाद अध्यापन का कार्य कर रहे हैं और इस पेशे से अच्छी खासी कमाई भी कर रहे हैं।


कोचिंग सेंटर एक प्रकार से बहुत बड़ा रोजगार का भी हिस्सा है और इसमें डायरेक्ट डायरेक्ट अच्छे अच्छे टीचर जुड़े होते है जो अच्छी प्रकार से शिक्षा देते है तात्कालिक समय में रोजगार का सही जरिया मिलना काफी मुश्किल होता जा रहा है  इस वजह से भी कई लोग अध्यापन के माध्यम से अपना जीवन यापन कर रहे हैं वहीं आज हम आपको बताएंगे की किस तरह से आप भी अपना खुद का एक कोचिंग सेंटर खोल सकते हैं।



कोचिंग सेंटर का महत्व

Coaching Center Kaise Khole- कोचिंग सेंटर का महत्व तो हमारे जीवन में बहुत महत्व है सभी जानते है अपनी शिक्षा को मजबूत बनाने के लिए कोचिंग सेंटर का ही सहारा लिया जाता है आज हर व्यक्ति जो किसी भी प्रकार की स्टडी कर रहा है उसको कोचिंग सेंटर की जरूरत होती ही है और ज्यादा से ज्यादा जानकारी पाने के लिए हमे कोचिंग सेंटर का ही प्रयोग करना पड़ता है। शिक्षा से व्यक्ति का ज्यादा विकास होता है इसलिए लोग शिक्षा को ज्यादा महत्व देते है और कोचिंग सेंटर में इसी चीज़ को सिखाया जाता है।


आज कोचिंग इंस्टिट्यूट एजुकेशन सिस्टम का बहुत जरूरी पार्ट बन चूका है हम पिछले 5 साल की बात करे तो कोचिंग इंस्टीट्यूट की डिमांड 35% से 40% तक बढ़ी है तो यदि कोई भी कोचिंग इंस्टिट्यूट खोलना चाहता है तो वही कोचिंग इंस्टिट्यूट का काम किसी भी लेवल से शुरू कर सकते है यह उसके ऊपर डिपेंड करंता है की वह एक छोटे लेवल पर एक Private Tutor की तरह काम शुरू करेगा या एक प्रोफेशनल कोचिंग इंस्टिट्यूट खोलना चाहता है।





ऑनलाइन कोचिंग सेंटर या ऑनलाइन ट्यूटर की बाजार में मांग (Online Coaching Center or Online Tutor Business Market Potential)

ऑनलाइन कोचिंग एक नया प्रशिक्षण मॉडल है, जोकि बहुत तेजी से बढ़ रहा है। ऑनलाइन कंटेंट शेयरिंग और डिजिटल मीडिया के बढ़ते विकास के चलते ऑनलाइन कोचिंग की संभावनाएं व्यापक रूप से बढ़ गई हैं। क्योंकि आजकल माता – पिता और छात्र अपनी व्यक्तिगत रूप से सीखने की आवश्यकताओं के लिए ऑनलाइन ट्यूशन्स के साथ जुड़ रहे हैं, ऐसे में जाहिर सी बात हैं इसकी मार्किट में मांग भी अधिक होती हैं।




ऑनलाइन कोचिंग सेंटर या ऑनलाइन ट्यूटर व्यवसाय के लिए योजना (Online Coaching Center or Online Tutor Business Planning)

ऑनलाइन कोचिंग सेंटर या ऑनलाइन ट्यूटर व्यवसाय के लिए आपको पहले से कुछ प्लानिंग करनी होगी। जैसे कि आप किस विषय की कोचिंग देना चाहते हैं, और उसका नाम क्या रखेंगे। यदि किसी लाइसेंस की आवश्यकता है तो वह कैसे प्राप्त किया जा सकता है। इसी तरह की अन्य चीजों का पहले से ही निर्धारण करना बेहतर होगा। हालांकि हम आपको बता दें कि आप ऑनलाइन ट्यूशन देने वाली किसी विशेष कंपनी के साथ जुड़कर इस व्यवसाय को करते हैं, तो आपको इससे काफी फायदा मिल सकता है। क्योंकि इससे आपको अपने ग्राहक बनाने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। आपके ग्राहक पहले से ही आपको मिल जायेंगे।




कैसे करें कोचिंग सेंटर की स्थापना Coaching Center Kaise Khole

आइये जानते है सेटप के साथ आप अपना कोचिंग सेंटर कैसे शुरू कर सकते है।


1. शिक्षा व्यवस्था को समझना

शिक्षा एक प्रकार की नहीं होती है इसमें अलग अलग प्रकार के सब्जेक्ट होते है जिससे उनको समझना जरूरी होता है जब आप कोचिंग सेंटर सेंटर की शुरुवात करते है तो आपको समझाना चाहिए की आप किस प्रकार की शिक्षा देना चाहते है और किस प्रकार के बच्चो को आप अपने सेंटर पर किस सब्जेक्ट की जानकारी देने वाले है।


2. विषयों का चयन करना

शिक्षा में बहुत सरे विकल्प होते है जिन्हे हम विषयों से जानते है आपको अपने विषयो को ऐसे चुना है जिसमे आप परफेक्ट हो जिन सब्जेक्ट को अच्छी जानकारी के साथ पढ़ा सकते है तो इससे आपको काफी लाभ होगा। किन्तु पढ़ाने के लिए पूरे आत्मविश्वास के साथ ही आगे आएं।


3. सही स्थान का चयन करना

Coaching Center Kaise Khole- तात्कालिक समय में बहुत अधिक कोचिंग सेंटर होने के बाद भी विद्यार्थियों को सही रूप से शिक्षा नहीं मिल पाती है। इसका कारण ये होता है कि अधिकांश शिक्षक या तो, सही ढंग से पढ़ाते नहीं हैं, अथवा सही ढंग से पढ़ाने वालों का सेंटर ऐसे स्थान पर नहीं होता, जहां पर आसानी से पहुंचना मुश्किल होता है इस वजह से कोचिंग स्थापित करने के लिए स्थान का चयन अनिवार्य है। आपको ऐसे स्थान का चयन करना पड़ता है, जहां पर विद्यार्थी आसानी से आ सके। यदि आपका घर ऐसे स्थान पर है, तो आप आसानी से अपने घर पर कोचिंग सेंटर खोल सकते हैं। हालांकि इस बात को ध्यान में रखने की आवश्यकता होती है, कि कमरे में किसी भी तरह की डिस्टर्बेंस अर्थात टीवी, साउंड सिस्टम आदि की समस्या न हो। अन्यथा आप अलग रूम किराए पर लेकर भी कोचिंग शुरू कर सकते हैं।


4. बड़े रूम की आवश्यकता

Coaching Center Kaise Khole- कमरा इतना बड़ा अवश्य होना चाहिए कि आपके द्वारा प्रत्येक बैच में तय किए गए विद्यार्थियों आराम से कमरे में बैठ सके। आप कमरे में इनके बैठने के लिए कुर्सी, बेंच आदि का प्रयोग कर सकते हैं। इस कमरे में मूल तौर पर सभी तरह की विशेष सुविधाएं जैसे वॉशरूम, पीने का पानी, ब्लैकबोर्ड और पंखा या एसी का होना अनिवार्य है। बेहतर सुविधाएं होने पर विद्यार्थी ख़ुद ब ख़ुद आपकी कोचिंग की तरफ आकर्षित होंगे। इनके अलावा अन्य मूलभूत आवश्यकताओं का वर्णन नीचे किया जा रहा है।


  1. आपको अपने कोचिंग के कमरे में अपने विषय से सम्बंधित सभी प्रेरणादायक किताबों को रखने की आवश्यकता होती है। इन किताबों की मदद से आपको बच्चों को पढ़ाने में काफी मदद मिलती है।


  1. आपको अपने कोचिंग में फ़ोन आदि की व्यवस्था बेहतर रखने की आवश्यकता होती है। साथ ही कोचिंग सेंटर में कम से कम एक कंप्यूटर सिस्टम होना भी काफी जरूरी होता है।


  1. विद्यार्थियों द्वारा पूछे गये आवश्यक सवालों के जवाब अगर आपको नहीं पता हैं, तो आप कंप्यूटर के जरिए उन सवालों का जवाब दे सकते हैं। आप इन्टरनेट की मदद से अपने विद्यार्थियों की उनके विषय से सम्बंधित विशेष क्लासेज भी दे सकते है। कंप्यूटर सिस्टम के होने की वजह से आप अपने विद्यार्थियों के फीस का ब्योरा भी आसानी से रख सकते हैं।


5. योग्य शिक्षकों का चयन (Selection of Qualified Teachers)

कोचिंग में शिक्षकों की नियुक्ति करते समय उनके शैक्षिक स्तर की जाँच की जानी चाहिए ताकि कोचिंग सेंटर में छात्रों को पढ़ाने और ट्यूशन पढ़ाने के तरीके में सुधार हो सके।


6. फीस का निर्णय

आपको अपने फीस का निर्णय बहुत सरलता से करने की आवश्यकता होती है। आपकी फीस ऐसी होनी चाहिए कि लोगों को आपकी कोचिंग आवश्यकता से अधिक महंगी न लगे। आपको फीस निर्णय करते हुए विषय तथा विद्यार्थियों की कक्षा का ध्यान रखना अनिवार्य है। आप उन विषय की फीस अधिक रख सकते हैं, जो अक्सर अधिक डिमांड में होते हैं। विभिन्न तरह के साइंस, इकोनॉमिक्स, मैथ्स आदि की फीस बेहतर राशि की होती है। अतः इतिहास, भुगोल आदि विषयों की फीस कम होती है। साथ ही यह भी ध्यान में रखने वाली बात है कि यदि पढ़ाने की क्वालिटी बेहतर हो, तो आप आसानी से मनचाही राशि प्राप्त कर सकेंगे। यहां पर विभिन्न विषयों के फीस का वर्णन किया जा रहा है, जो कि कक्षा 8 से 12 के लिए सामान्यत ली जाती है। वहीं इसके अलावा आप कक्षा 8 वी से कम के सभी विषय के लिए रू 1000-1500 के करीब फीस ले सकते हैं।




कोचिंग खोलने में लगने वाली लागत (Total cost to Start a Successful Coaching Center Business)

Coaching Center Kaise Khole- किसी कोचिंग को स्थापित करने की कुल लागत सबसे पहले इस बात पर निर्भर करता है कि आप कोचिंग कहां पर खोल रहे हैं। यदि आप अपनी कोचिंग अपने घर में खोल रहे हैं, तो आपके रूम के किराए का खर्चा बच सकता है। और आपको केवल इंटीरियर पर खर्च करने की आवश्यकता होती है।

यदि आप किसी मध्यम शहर में अपना कोचिंग खोलते हैं, तो इसके लिए आपको प्रति महीने कम से कम 2500 रूपए का किराया देना होता है। आप हालांकि रूम 6 महीने अथवा वर्ष भर के लिए लीज पर भी ले सकते हैं। इसके अलावा आपको ब्लैकबोर्ड, एसी, कंप्यूटर सिस्टम, बैठने के लिए बेंच अथवा चेयर आदि पर खर्च करने की आवश्यकता होती हुई। इस तरह से किसी कोचिंग स्थापित करने के लिए न्यूनतम 60,000- 70,000 रूपए की लागत पहली बार आती है।




ऑनलाइन कोचिंग सेंटर या ऑनलाइन ट्यूटर व्यवसाय के लिए आवश्यकताएं (Online Coaching Center or Online Tutor Business Requirements)

आमतौर पर ऑनलाइन ट्यूटर या ऑनलाइन कोचिंग सेंटर्स में एक पेशेवर शिक्षक और किसी विशेष क्षेत्र के विषय के विशेषज्ञ होते हैं। आपको इसका व्यवसाय शुरू करने के लिए निम्न चीजों की आवश्यकता पड़ेगी, जैसे –


  • शिक्षण सर्टिफिकेशन या शिक्षण अनुभव

  • मास्टर्स डिग्री या पीएचडी

  • विशिष्ट प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना


इन सभी आवश्यकताओं से निश्चित रूप से छात्रों और अभिभावकों से ध्यान और विश्वास प्राप्त करने में आपकी मदद होगी। किन्तु इसके अलावा ऑनलाइन कोचिंग में प्रशिक्षक ईमेल, फोन, स्काइप या किसी अन्य वीडियो कालिंग सेवा के माध्यम से ग्राहकों के साथ बातचीत करते हैं। वह अपने पास होना आवश्यक है। साथ ही विभिन्न तकनीकों का उपयोग करके छात्रों को शिक्षा देने के लिए आपके पास आवश्यक सॉफ्टवेयर भी होने चाहिए, और जब आप किसी विषय के भाग को वीडियो कॉल, ईमेल या अन्य माध्यम से छात्रों को समझाते हैं, तो आप उसकी रिकॉर्डिंग के लिए एक रिकॉर्डर भी अपने पास रख सकते हैं जिससे कि आप उस भाग के बारे में जानकारी अन्य लोगों तक पहुंचा सकें। तो इन सभी चीजों की आवश्यकता आपको ऑनलाइन कोचिंग के व्यवसाय में पड़ेगी।




ऑनलाइन ट्यूटर कैसे बनें और ट्यूटोरिंग कैसे शुरू करें (How to Become Online Tutor and Start Tutoring)

बाजार में कई सारी ऑनलाइन ट्यूटोरिंग कंपनीज हैं जोकि छात्रों को ऑनलाइन ट्यूशन देती हैं. यदि आप एक ऑनलाइन ट्यूटर बनना चाहते हैं तो आप इन कंपनियों के साथ जुड़कर यह व्यवसाय कर सकते हैं. इसके लिए आपको निम्न प्रक्रिया को अपनाना होगा –


अच्छी ऑनलाइन ट्यूटोरिंग कंपनी के साथ खुद को रजिस्टर करें :-

यह एक स्टैण्डर्ड प्रक्रिया है, जिसमें आपको एक ऑनलाइन ट्यूटर के रूप में खुद को एक अच्छी ऑनलाइन ट्यूटोरिंग कंपनी के साथ रजिस्टर करना होता हैं। यूं कहें कि आपको किसी प्रतिष्ठित कंपनी से फ्रैंचाइज़ी लेनी होगी। इसके लिए आपको एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होता हैं, जिसमें आपको क्रेडेंशियल, बेसिक बायो इनफार्मेशन, प्रोफाइल फोटो, ट्यूटोरिंग प्रफरेंसेज आदि की जानकारी देनी होती हैं। साथ ही आपको अपने शिक्षा के प्रमाण के लिए सर्टिफिकेट और आईडी की एक – एक कॉपी भी इसमें अपलोड करनी होती है।


सत्यापन एवं अप्रूवल :-

जब आपने रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर दिया, तो इसके बाद बारी आती हैं उसके सत्यापन एवं अप्रूवल की। कंपनी के द्वारा आपके फॉर्म एवं दस्तावेजों का सत्यापन एवं अप्रूवल किया जाता है। इसके साथ ही कंपनी आपका बैकग्राउंड प्रोफाइल भी चेक कर सकती हैं कि आपके ऊपर इससे पहले कोई क्रिमिनल केस तो नहीं चला है। इसके बाद आपकी प्रोफाइल को छात्रों के लिए पब्लिक किया जाता है।


ऑनलाइन सहयोग उपकरण :-

ऑनलाइन ट्यूटोरिंग कंपनी एक सपोर्ट टीम होती हैं जोकि कई सारे ट्यूटर्स से चलती हैं। यह विशेष रूप से नए ट्यूटर के लिए एक अच्छा अभ्यास है, जिन्हें ऑनलाइन शिक्षण में ज्यादा अनुभव नहीं है। इनके लिए यह सलाह दी जाती हैं विशेष रूप से गणित एवं विज्ञान के शिक्षकों को, कि वे अपने पास एक पैन और पैड आवश्यक रखें। इससे छात्रों को बेहतर तरीके से समझाने में मदद मिलती हैं। हालांकि यह तरीका अब पुराना हो चूका है, क्योंकि अब ऑनलाइन ट्यूटर विभिन्न तकनीकों एवं सॉफ्टवेयर के माध्यम से छात्रों को पढ़ाते हैं। इसलिए वह सभी चीजें आपके पास होना आवश्यक है।


अंत में शुरू करें ट्यूशन :-

अब आप आपके ट्यूटोरिंग कंपनी के बिज़नस मॉडल के अनुसार ट्यूशन देना शुरू कर सकते हैं और पैसे कमाना शुरू कर सकते हैं।




ट्यूशन ऑनलाइन कैसे करें (How to do Tuition Online)

आजकल के ऑनलाइन ट्यूटरिंग क्लासरूम में वे सभी आवश्यक उपकरण होने चाहिए, जिसकी जानकारी हमने आपको ऊपर दे दी है। इसके माध्यम से क्लाइंट्स को वन – टू – वन या वन – टू – मेनी ट्युटोरिंग सेशन की सुविधा प्रदान की जाती हैं  जब आप छात्रों को सेशस देते हैं तो उसमें आप आवश्यक उपकरणों का उपयोग कर ट्यूशन को ऑनलाइन करने के लिए निम्न कार्य कर सकते हैं –


  • फेस टू फेस वीडियो कांफ्रेंसिंग शुरू कर सकते हैं।

  • उच्च – गुणवत्ता और एक्सीलेंट आवाज के साथ एक – दूसरे से बात कर सकते हैं।

  • डिजिटल एडवांस्ड वाइटबोर्ड पर विभिन्न रंगों में लिख कर जिसे मिटाया भी जा सकता है और लोगों को आकर्षित भी लग सकता है वह कर सकते हैं।

  • इंस्टेंट मैसेजिंग के लिए टेक्स्ट चैट भी कर सकते हैं।

  • आप चाहे तो कंपनी की वेबसाइट में फाइल को अपलोड कर उसे अपने छात्रों के साथ साझा भी कर सकते हैं।

  • अन्य व्यक्ति के साथ प्रोग्रेसिवली मेसेज करने के बाद आप यह देख सकते हैं आप क्या कर रहे है और छात्र क्या कर रहे हैं।

  • जब आप कोई सेशन लेते हैं तो उसमें ज्यादा से ज्यादा शामिल हो सकें इसके लिए आप सभी के डिवाइसेस को एक साथ एक्सेस भी कर सकते हैं आदि।



अपने ऑनलाइन ट्यूटोरिंग में छात्र – छात्राओं को आकर्षित कैसे करें (How to Attract Students in Your Online Tutorials)

एक बार जब आपको ऑनलाइन ट्यूटर प्रोफाइल को समर्थन मिल जाएँ और आपके पास ऑनलाइन सेशन का बहुत अच्छा अनुभव आ जाये, तो इसके बाद आपको अपने साथ अधिक सेशन को बुक करने के लिए छात्रों को आकर्षित करना होगा इसके लिए आप निम्न बातों को फॉलो कर सकते हैं।

अपनी प्रोफाइल अपडेट कर सकते हैं :-

आप यह देखें कि आपके पोटेंशियल क्लाइंट्स यानि कि छात्र आपसे क्या सुनना चाहते हैं. आप अपनी प्रोफाइल में एक वीडियो सन्देश भी शामिल करें। इस तरह से सरल और कुछ बेसिक कंटेंट से प्रोफाइल को अपडेट कर आपके पास पैसे कमाने के अधिक अवसर उत्पन्न हो सकेंगे।

अपने छात्रों को रेटिंग्स एवं रिव्यु देने के लिए कहें :-

आप अपने प्रोफाइल में रेटिंग्स एवं रिव्यु का विकल्प अवश्य सेट करें। आप अपने छात्रों को सेशन देने के बाद उन्हें यह सेशन कैसा लगा यह जानने के लिए आप उनसे रेटिंग्स एवं रिव्यु देने के लिए बोल सकते हैं। यदि आपकी रेटिंग्स एवं रिव्यु अच्छे होंगे, तो आपके पहले पेज में आने के ज्यादा चांस होंगे और आपको अधिक सेशन की प्राप्ति होगी।

अधिकतर छात्रों के लिए उपलब्धता एक बहुत बड़ा प्रॉब्लम होता हैं :-

यदि आपका उपलब्धता का समय छात्रों के साथ कोआर्डिनेट नहीं करता है, तो वे आपके साथ सेशन बुक नहीं करेंगे। इसलिए आप अपने पोटेंशियल छात्रों के समय को लगातार याद रखें। और जब वे इसके लिए रिक्वेस्ट करें तो आप उस समय उपलब्ध रहें।


हर सेशन की रिक्वेस्ट पर तुरंत प्रतिक्रिया दें :-

यदि आपको किसी छात्र द्वारा किसी सवाल का जवाब पूछने का कोई सन्देश प्राप्त होता है, तो उनके लिए आप मददगार बनें। और उनके सवाल का सही – सही जवाब देकर उन्हें अपनी ओर आकर्षित करें।


इस तरह से आप घर बैठे अपने शिक्षा का उपयोग कर लाखों रूपये प्रतिमाह कमाने का अवसर प्राप्त कर सकते हैं।




कोचिंग क्लास से होने वाला लाभ (Benefits)

Coaching Center Kaise Khole- एक बार निवेश कर लेने के बाद आपको इसके अंतर्गत लाभ ही लाभ प्राप्त होता हैं। आपको कोचिंग क्लास में कितना लाभ होगा ये आपकी पढ़ाने के तरीके पर निर्भर करता है। क्यों कि अगर आपका पढ़ाने का तरीका अच्छा होगा तो अधिक संख्या में छात्र- छात्राएं आपके कोचिंग सेंटर पर आएंगे और आपको एक सीमा तक वाजिब फीस भी देंगे। तात्कालिक समय में कई कोचिंग सेंटर बेहतर प्रदर्शन करके एक अच्छा लाभ कमा रहे है। आप चाहें तो एक दिन में कम से कम 6 बैच आसानी से पढ़ा सकते हैं, यदि एक बैच में क़रीब 20 विद्यार्थी हों तो आम तौर पर 500 रू की फीस पर आपको 10000 रूपए एक महीने में प्राप्त होता है। अतः आप 6 बैच रोज़ाना पढ़ा कर लगभग 60,000 रूपए आसानी से कमा सकते हैं।




कोचिंग के लिए पंजीकरण कैसे करें? How to Register for Coaching in Hindi

यदि आप अपने कोचिंग सेंटर की विश्वसनीयता बढ़ाने के लिए राज्य सरकार में पंजीकृत होना चाहते हैं, तो आप एक बेहतर लाभ प्राप्त कर सकते हैं, जो सभी के लिए व्यवसाय के तहत पंजीकृत होना आवश्यक है।


अपने व्यवसाय को पंजीकृत करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यदि आप एक सफल कोचिंग उद्यमी बनना चाहते हैं तो आपको सभी कानूनी और योग्य काम करने होंगे। जिस प्रकार से सभी उधमी अपना कंपनियों का पंजीकरण कराती है उसी प्रकार से आप अपने कोचिंग सेंटर का भी पंजीकरण करा सकते हैं।


कोचिंग को प्रमोट कैसे करें? How to Promote Coaching in Hindi

यदि आप भी चाहते हैं कि आपका कोचिंग संस्थान बुलंद ऊंचाइयों तक पहुंचे। आप चाहते हैं कि अधिक से अधिक छात्र आपके ट्यूशन संस्थान में प्रवेश लें, इसके लिए आप अधिक लोगों को अपने कोचिंग संस्थान की खबर प्रकाशित कर सकते हैं।


यदि आप चाहें, तो आप सोशल मीडिया और समाचार पत्रों की मदद से प्रचार कर सकते हैं, अपने कोचिंग पर्चे वितरित कर सकते हैं। जिससे छात्र आपकी कोचिंग के प्रति आकर्षित हों और लोगों को कोचिंग क्लास के बारे में पता चले।


आप अपने कोचिंग में कुछ दिनों के लिए फ्री डेमो क्लास रखकर विभिन्न स्कूली बच्चों को बुलाकर अच्छी तरह से कोचिंग को बढ़ावा दे सकते हैं।




People also ask

कोचिंग सेंटर की शुरुआत कैसे करें? कोचिंग सेंटर खोलने के लिए क्या करें?

  1. कोचिंग सेंटर शुरू करने के लिए अच्छी जगह का चुनाव –

  2. अनुभवी लोगों की सलाह –

  3. विषयों का चयन –

  4. उपयुक्त और well qualified शिक्षकों का चयन –

  5. उचित शैक्षणिक साधनों का इस्तेमाल –

  6. फीस निर्धारण

  7. अच्छी शिक्षा में कमी नहीं आनी चाहिए –

  8. अच्छी आधारिक संरचना (Infrastructure) –


ट्यूशन कैसे खोलें?

सबसे पहले आपको उस क्षेत्र की शिक्षा व्यवस्था को समझना जरूरी है, जिस जगह पर आप कोचिंग सेंटर खोलना चाहते हैं। आपको ये पता करना होता है कि क्षेत्र में रहने वाले विद्यार्थी किस तरह के स्कूल में पढ़ते हैं, और उन्हें किस तरह की कोचिंग की आवश्यकता है। इसके बाद आपको उन विषयों का चयन करना होता है, जो आप अच्छे से पढ़ा सकें।



कोचिंग का रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है?

कंप्यूटर प्रशिक्षण संस्थान के लिए सरकारी मान्यता कैसे प्राप्त करें (Step For Registration)

  1. पंजीकरण के लिए कदम अभी आवेदन करें (अपना विवरण भरें)

  2. उसके बाद ई-मैक्स टीम कॉनट।

  3. आप फ़ॉर्म डाउनलोड करें और हमारे ईमेल पर फ़ॉर्म को भेजें और भेजें

  4. पंजीकरण प्रमाणपत्र प्राप्त करें



कोचिंग कैसे चलाये?

कैसे करें कोचिंग सेंटर की स्थापना Coaching Center Kaise Khole

  1. शिक्षा व्यवस्था को समझना ...

  2. विषयों का चयन करना ...

  3. सही स्थान का चयन करना ...

  4. बड़े रूम की आवश्यकता ...

  5. योग्य शिक्षकों का चयन (Selection of Qualified Teachers) ...

  6. फीस का निर्णय



कोचिंग में स्टूडेंट कैसे बढ़ाये?

कोचिंग में स्टूडेंट बढ़ाने का बेस्ट तरीका – स्टूडेंट होंगे आकर्षित

  1. गूगल एड से बढ़ाये अपने कोचिंग में स्टूडेंट ...

  2. अलग – अलग कोचिंग में स्पीच देकर बढ़ाये अपने कोचिंग में स्टूडेंट ...

  3. सोशल मीडिया से कोचिंग का विज्ञापन करे ...

  4. अपने कोचिंग के आस पास के कोचिंग से पार्टनरशिप करे ...

  5. डेली उपयोगी वस्तु से अपने कोचिंग का प्रचार करे ...

  6. निष्कर्ष



ट्यूशन के लिए छात्रों को कैसे आकर्षित करें?

ट्यूशन लाभदायक शिक्षण एंटरप्रेंयूर्शिप बिज़नेस का एक सर्वश्रेष्ठ तरीका है। यदि आपकी किसी विषय पर मास्टरी है, आपके पास मुंह से बोलकर या सन्दर्भ द्वारा विद्यार्थियों को आकर्षित करने के अवसर हैं पर यदि आप किसी और को अपने बिज़नेस को प्रोमोट करने के लिए देख रहे हैं, तो आपको इस बिंदुओं को अपने दिमाग में रखना होगा।



कोचिंग सेंटर का नाम क्या रखें?

दोस्तों जब भी आप अपने किसी कोचिंग सेंटर का नाम तय करते हैं, तो आपको विशेष कर ध्यान नहीं रखना चाहिए कि आप जिस लोकेशन पर अपना कोचिंग सेंटर रखते हैं। तो आपको उस लोकेशन के किसी प्रसिद्ध नाम को लेना है, और साथ में कोचिंग सेंटर को जोड़ना है। इन सभी को मिलाकर आपको एक यूनिक नाम बनाना होगा।



CONCLUSION

हमे उम्मीद है आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी और इसे जुड़ा कोई भी प्रशन आपके मन में है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ