Translate This Website In Any Language

युवराज सिंह की जीवनी

युवराज सिंह की जीवनी

युवराज सिंह एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्हें भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक माना जाता है। उनका जन्म 12 दिसंबर 1981 को चंडीगढ़, पंजाब, भारत में हुआ था।

युवराज सिंह की जीवनी

युवराज सिंह ने 2000 में भारतीय राष्ट्रीय टीम के लिए पदार्पण किया, और जल्दी ही अपनी आक्रामक बल्लेबाजी शैली और तेजी से रन बनाने की क्षमता के लिए जाने गए। वह 2007 क्रिकेट विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के एक प्रमुख सदस्य थे, और उनके हरफनमौला प्रदर्शन के लिए उन्हें टूर्नामेंट का खिलाड़ी नामित किया गया था।


2011 में, युवराज सिंह को कैंसर का पता चला और उन्होंने इलाज के लिए क्रिकेट से ब्रेक लिया। इस झटके के बावजूद, उन्होंने 2012 में भारतीय टीम में वापसी की और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में भारत की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।


अपने करियर में, युवराज सिंह ने भारत के लिए 304 एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय (ODI) और 58 ट्वेंटी-20 अंतर्राष्ट्रीय (T20I) खेले, दोनों प्रारूपों में 8,000 से अधिक रन बनाए और 100 से अधिक विकेट लिए। उन्होंने भारत के लिए 40 टेस्ट मैच भी खेले, जिसमें 1,900 से अधिक रन बनाए और 15 विकेट लिए।


2019 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद, युवराज सिंह ने भारत में घरेलू क्रिकेट खेलना जारी रखा और दुनिया भर के विभिन्न टी20 लीग में भी खेले।



 युवराज सिंह के करियर के बारे में विवरण:

2002 में, युवराज सिंह अंडर -19 क्रिकेट विश्व कप के फाइनल में पहुंचने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। उन्हें बल्ले और गेंद के साथ उनके प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया।


2004 इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में, युवराज सिंह किंग्स इलेवन पंजाब फ्रेंचाइजी के लिए अग्रणी रन-स्कोरर थे, जिन्होंने टूर्नामेंट में 350 से अधिक रन बनाए।


2007 में, युवराज सिंह को भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे में प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ नामित किया गया था, जहाँ उन्होंने पहले टेस्ट मैच में शतक और दूसरे टेस्ट में अर्धशतक बनाया था।


2011 में, युवराज सिंह को कैंसर (जर्म सेल कैंसर का एक दुर्लभ रूप) का निदान किया गया था और संयुक्त राज्य अमेरिका में कीमोथेरेपी उपचार किया गया था। उन्होंने 2012 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई।


2014 में, युवराज सिंह को आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर फ्रेंचाइजी द्वारा साइन किया गया था और टूर्नामेंट के फाइनल में उनकी दौड़ में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।


2017 में, युवराज सिंह को आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद फ्रेंचाइजी द्वारा साइन किया गया था और टूर्नामेंट में उनकी जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, सीजन में 500 से अधिक रन बनाए थे।


2019 में, युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की और उसी वर्ष जून में भारत के लिए अपना अंतिम मैच खेला। वह भारत में घरेलू क्रिकेट खेलना जारी रखता है और दुनिया भर के विभिन्न टी20 लीगों में भी भाग लेता है।



युवराज सिंह के करियर और निजी जीवन के बारे में विवरण:

अपनी क्रिकेट उपलब्धियों के अलावा, युवराज सिंह अपने परोपकार और धर्मार्थ कार्यों के लिए भी जाने जाते हैं। उन्होंने YouWeCan Foundation की स्थापना की, जिसका उद्देश्य कैंसर के बारे में जागरूकता बढ़ाना और कैंसर रोगियों और उनके परिवारों को सहायता प्रदान करना है।


2016 में, युवराज सिंह को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जो भारत के सर्वोच्च खेल सम्मानों में से एक है।


अपने क्रिकेटिंग करियर के अलावा, युवराज सिंह ने बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है और विभिन्न ब्रांडों का समर्थन किया है।


युवराज सिंह ने 2016 में मॉडल और एक्ट्रेस हेजल कीच से शादी की थी। दंपति का एक बेटा है जिसका नाम अर्जुन है।


2020 में, युवराज सिंह ने एक पेशेवर गोल्फर बनने के अपने इरादे की घोषणा की और पेशेवर गोल्फर ज्योति रंधावा के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ